जनरल बिपिन रावत ने संभाली थलसेना की कमान

COAS along with the  first ladies during exchange of baton ceremony in office of COAS on 31 Dec 16जनरल बिपिन रावत ने भारतीय सेना के सेनाध्यक्ष पद की कमान संभाल ली है उन्होंने जनरल दलबीर सिंह का स्थान लिया जो कि 31 दिसम्बर को सेवानिवृत हुए हैं।

जनरल रावत भारतीय सेना के 27वें सेना प्रमुख बने, वह इससे पहले थलसेना के सहसेनाध्यक्ष थे। अपनी पारिवारिक विरासत को आगे बढ़ाते हुए जनरल रावत इस पद पर पहुंचे हैं।

इससे पहले उनके पिता लेफ्टिनेंट जनरल एलएस रावत सेना में डिप्टी चीफ के पद से रिटायर्ड हुए थे। उनके पिता भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून के कमांडेंट भी रहे। जनरल रावत दक्षिणी कमान के कमांडर का पद भी संभाला चुके हैं।

Gen Dalbir Singh after handing over charge  to Gen Bipin Rawat in the office of COAS  on 31 Dec 1611वीं गोरखा राइफल्स की पांचवीं बटालियन में जनवरी 1979 में कमीशन लेने वाले जनरल रावत का करियर उपलब्धियां भरा रहा है। वह दिसंबर 1978 में भारतीय सैन्य अकादमी से पासआउट होने वाले बैच के श्रेष्ठतम कैडेट रहे और उन्हें स्वार्ड ऑफ ऑनर मिला।

जनरल बिपिन रावत अति विशिष्ट सेवा मेडल, युद्ध सेवा मेडल, सेना मेडल व विशिष्ट सेवा मेडल जैसे कई सम्मान से अलंकृत किए गए हैं। कांगो में मल्टीनेशन ब्रिगेड की कमान संभालने के साथ ही वह यूएन मिशन में सेक्रेटरी जनरल व फोर्स कमांडर भी रह चुके हैं।

सेना में कई अहम पद संभालने के साथ-साथ राष्ट्रीय सुरक्षा पर उनके लेख विभिन्न जर्नल्स में प्रकाशित हो चुके हैं। मिलिट्री मीडिया स्ट्रेटिजिक स्टडीज पर शोध के लिए उन्हें डॉक्टरेट की उपाधि भी मिल चुकी है।

इंदौर के अहिल्या बाई होल्कर विश्वविद्यालय से एमफिल करने वाले जनरल रावत ने मिलिट्री मीडिया स्ट्रेटिजिक स्टडीज में पीएचडी कर चुके हैं। पौड़ी गढ़वाल के मूल निवासी जनरल बिपिन रावत का परिवार पहले रुड़की में रहता था, उसके बाद वह नोएडा में शिफ्ट हुए और अब दिल्ली में रह रहे हैं। उनके परिवार में उनकी दो पुत्रियां हैं।

वाई एस बिष्ट

 

This entry was posted on Saturday, December 31st, 2016 at 4:14 pm and is filed under समाचार, हमारी फ़ौज. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0 feed. You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>

Powered By Indian Cyber Media Technology