Home Archive by category रंग-तरंग

रंग-तरंग

रंग-तरंग
आपने आजतक किसी शवयात्रा को पारंपरिक वाद्य यंत्रों, ढोल नगाड़ों की थाप के साथ नृत्य करते हुए ले जाने की बात नहीं सुनी होगी,लेकिन उत्तराखंड के एक हिस्से में ऐसी प्रथा चलन में है। लोकेंद्र सिंह बिष्ट, उत्तरकाशी उत्तराखंड अपनी अद्भुत और अकल्पनीय कथाओं और संस्कृति के लिए जाना जाता है। लेकिन क्या आपने मृत्यु […]Continue Reading
रंग-तरंग
गढ़ी कैंट क्षेत्र के डाकरा बाजार में स्थित सतीश खुखरी की दुकान को अमेरिकी सेना ने अपने मरीन कमांडो के लिए 60 खुकरी बनाने का ऑर्डर दिया है। 100 साल पुरानी यह दुकान भारतीय सेना के लिए बनाती है खुखरी। वर्षा सिंह, देहरादून देहरादून के गढ़ी कैंट क्षेत्र के डाकरा बाजार में सतीश खुखरी की […]Continue Reading
रंग-तरंग
‘गंगा बचाओ’ का संदेश देने वाली पेंटिंग के लिए राजेश चंद्र को केंद्र सरकार के ‘रग-रग में गंगा’ शो में जगह मिली। कुंजापुरी मंदिर के मुख्य द्वार पर‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ की चित्रकारी के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट की जज अनुजा प्रभुदेसाई ने सम्मानित कर चुकी हैं। वाईएस बिष्ट, ऋषिकेश कहते हैं कलाकार अपने भावों को […]Continue Reading
रंग-तरंग
सरैयां महिला बैंड ने जातिवाद और लैंगिक भेदभाव की दीवार, दोनों को तोड़ने की कोशिश की है। पहले महिला सरैयां को वर्ष 2017 में लॉन्च किया गया। फिर इसे बैंड के रूप में सामने लाने का विचार आया। जिसमें लड़कियां ढोल-दमाऊं, नगाड़े, मसकबीन बजाती हैं। – वर्षा सिंह तलवार और ढाल पकड़े दो लड़कियां युद्ध […]Continue Reading
रंग-तरंग समाचार
अब प्रदेश के वन क्षेत्रों में फिल्म की शूटिंग के लिए एक हफ्ते के भीतर इजाजत मिल जाएगी। प्रदेश में फिल्मों और उनके निर्माण को प्रोत्साहन देने के लिए सरकार कुछ और कदम उठा रही है। मुख्यमंत्री ने प्रमुख वन संरक्षक श्रीकांत चंदोला को निर्देश दिए हैं कि वन क्षेत्रों में शूटिंग की अनुमति सात […]Continue Reading
रंग-तरंग
मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कुछ दिनों पहले दिल्ली एक कार्यक्रम में कहा था कि पहाड़ के व्यंजनों का उत्तराखण्ड से बाहर भी इनका प्रचार प्रसार किया जाना चाहिए तथा इन व्यंजनों को देश के विभिन्न क्षेत्रों में आसानी से मिलना चाहिए। दिल्ली में भी उत्तराखण्ड के लाखों लोग निवास करते हैं और काफी लोगों का […]Continue Reading
रंग-तरंग
विनोद कापड़ी के पास पत्रकारिता में 25 बरसों से ज्यादा का अनुभव है और वे खबरों में छुपी कहानी को ढूंढ कर फिल्म में लाए हैं। जो आपको एक साथ हंसाती और चकित करती है। हिंदी सिनेमा की नई यथार्थवादी धारा में कॉमेडी का मिश्रण इसे ऐसी अन्य फिल्मों से अलग बनाता है। इस कॉमेडी […]Continue Reading
रंग-तरंग
उत्तराखंड फिल्म एसोसिएशन के पांचवें फिल्म फेयर अवार्ड में 27 विगत वर्षों से क्षेत्रीय भाषा में एल्बम (ऑडियो वीडियो) निर्माण, फीचर फिल्मों में अभिनय व प्रोडक्शन कार्य व इष्टवाल सीरीज नामक कंपनी से स्वयं का प्रोडक्शन हाउस चलाने तथा प्रदेश भर के विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों लोक उत्सवों और जनजातीय क्षेत्र पर पत्रिकारिता के रूप में […]Continue Reading
रंग-तरंग
रियलिटी शो ‘नच बलिए’ 6 का समापन हो गया। इसमें टीवी कलाकार आशा नेगी और रित्विक धनजानी विजेता बने। इस जोड़ी को पुरूस्कार के रूप में 35 लाख रूपये के साथ नच बलिए की ट्राफी, एक रेनाॅल्ट डस्टर कार और आॅस्ट्रलिया भ्रमण का टिकट प्रदान किया गया। इसके अलावा उनके कोरियोग्राफर वैभव और भावना को […]Continue Reading