Home Articles posted by Hill Mail
Exclusive
– गुस्सैल हाथियों को रोकने के लिए रामनगर वन प्रभाग की ओर से पिछले दिनों को कुछ जरूरी कदम उठाए गए हैं। लोगों की मांग पर सड़क के दोनों ओर गढ्ढे-खाई जैसे बना दिए हैं। जिससे हाथी सड़क पर न आ सकें। उन्हें डराने के लिए पटाखे लगाए गए हैं। हिल-मेल ब्यूरो, रामनगर हाथियों के […]Continue Reading
Exclusive
– अल्मोड़ा की जनसंख्या वृद्धि दर माइनस 1.64 प्रतिशत है। ग्रामीण आबादी में तो यह माइनस 4.20 प्रतिशत है। 20 से 49 वर्ष की आयु के 38 फीसदी लोग ही जिले में रहते हैं। कामकाजी आबादी तेजी से पलायन कर रही है।   हिल-मेल ब्यूरो, देहरादून   प्रकृति की अनुपम छटा से भरपूर अल्मोड़ा जैसे […]Continue Reading
Exclusive
पर्यटन स्थलों की कैपेसिटी को लेकर कभी कोई शोध नहीं किया गया। कभी यह पता लगाने की कोशिश नहीं हुई कि जिस हिल स्टेशन पर सैलानी जा रहे हैं, उसकी वेस्ट मैनेजमेंट की क्षमता क्या है। पर्यटकों की संख्या को नियंत्रित करने को लेकर नीति की कमी नजर आती है। वर्षा सिंह, देहरादून देश के […]Continue Reading
सरोकार
नरेश नौटियाल लगभग 550 ऐसे मझौले किसानों से सीधे जुड़े हैं, जो कम से कम एक और अधिक से अधिक 10 कुंतल अलग-अलग प्रकार की नगदी फसलों का उत्पादन करते हैं। वह इन उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराते हैं। किसानों को उनके घर पर अपने उत्पादन का पैसा मिल जाता है। प्रेम पंचोली अलग उत्तराखंड […]Continue Reading
रंग-तरंग
आपने आजतक किसी शवयात्रा को पारंपरिक वाद्य यंत्रों, ढोल नगाड़ों की थाप के साथ नृत्य करते हुए ले जाने की बात नहीं सुनी होगी,लेकिन उत्तराखंड के एक हिस्से में ऐसी प्रथा चलन में है। लोकेंद्र सिंह बिष्ट, उत्तरकाशी उत्तराखंड अपनी अद्भुत और अकल्पनीय कथाओं और संस्कृति के लिए जाना जाता है। लेकिन क्या आपने मृत्यु […]Continue Reading
समाचार
पत्रकार और लेखक मनजीत नेगी की पुस्तक है ‘हिल वॉरियर्स’। विश्वविख्यात लेखक रस्किन बॉण्ड ने लिखी है प्रस्तावना। कोस्ट गार्ड के पूर्व महानिदेशक राजेंद्र सिंह, रॉ के पूर्व प्रमुख अनिल धस्माना, एयर इंडिया के सीएमडी अश्विनी लोहानी, एनटीआरओ के पूर्व प्रमुख आलोक जोशी और कर्नल (रिटायर्ड) अजय कोठियाल भी रहे मौजूद।Continue Reading
सरोकार
राज्य में बेटियों को बचाने और पढ़ाने के साथ-साथ पर्यावरण बचाने का भी संदेश दिया जाएगा। पौधों का नाम नवजात बालिकाओं के नाम पर रखा जाएगा। इन पौधों की देखभाल बालिकाओं की माताओं द्वारा की जाएगी। Continue Reading
समाचार
राजधानी देहरादून से बाहर त्रिवेंद्र सरकार की यह दूसरी कैबिनेट बैठक थी। पहली कैबिनेट बैठक त्रिवेंद्र सरकार ने टिहरी झील में की थी।Continue Reading
समाचार
उत्तराखंड के देहरादून में कोस्ट गार्ड के भर्ती केंद्र का शिलान्यास। उत्तराखंड के साथ ही उत्तर प्रदेश, हिमाचल और हरियाणा के युवाओं को भी इस भर्ती सेंटर का लाभ मिलेगा।Continue Reading
Exclusive
केदारघाटी की प्रलयंकारी आपदा की यादों को टूरिज्म के साथ जोड़ने की योजना पर विचार कर रही है उत्तराखंड सरकार। अमेरिका के ग्राउंड जीरो, फ्रांस की फ्लेम ऑफ लिबर्टी की तर्ज पर विकसित करने की योजना।   वर्षा सिंह, देहरादून   वर्ष 2013 में केदारनाथ में आई भीषण आपदा ने दुनियाभर का ध्यान अपनी ओर […]Continue Reading